शादी में मेरी चुदक्कड़ बहन की चूत गांड चुदाई

हॉट सिस्टर चुदाई कहानी मेरी चालू बहन की है. उसे चुदाई का शौक है, वो हर किसी से अपनी चूत गांड मरवा लेती है. ऐसे ही एक शादी में मैंने उसे चार लड़कों से चुदती देखा.

दोस्तो, कैसे हैं आप लोग … जाहिर सी बात है कि अच्छे ही होंगे और आपने मेरी कहानी
कमसिन लड़की की चूत की खुजली
पढ़कर खूब मजा किया होगा.

अभी मैं अपनी बहन रानी के बारे में फिर से बता देता हूं. मेरी बहन 20 साल की हो गई थी.

यह हॉट सिस्टर चुदाई कहानी तब की है, जब मेरी बहन ने खूब लंड पेलवा पेलवा कर अपनी चूचियां मस्त करवा ली थीं.
उसके बड़े-बड़े तरबूज से गांड के दोनों फलक बाहर की तरफ से निकल चुके थे. उसकी मस्त एकदम गोल गोल गांड को देखकर किसी का लंड खड़ा हो जाता था.

रानी अब तक कम से कम तीस बत्तीस लंड खा चुकी होगी.
मेरी बहन इतनी बड़ी चुदक्कड़ है कि कभी कभी तो लगता है कि मैं भी उसके ऊपर चढ़ जाऊं.

मुझे पक्का यकीन है कि वो मुझसे चुदवाने में एक बार भी मना नहीं करेगी.

चूंकि मैंने उसे कई बार लड़कों के साथ घूमते हुए कुछ ऐसी स्थितियों में देखा था जो कि एक सामान्य लड़की के लिए अच्छा नहीं कहा जा सकता था.

उसे देखने के बाद मैंने उससे एक दो बार उससे कहा भी था- रानी ये सब ठीक नहीं है. ऐसा मत किया कर!
तो वो मुझे टका सा जवाब दे देती कि तुम पता नहीं किस जमाने में सोये पड़े हो दुनिया मंगल ग्रह पर पहुंच गई है और तुम अभी देहाती बातों में ही लगे पड़े हो. मेरा किसी से कोई चक्कर नहीं है, बस आजकल ये सब नॉर्मल है.

मैं भी सोचता कि किसी न किसी दिन जब ये पकड़ी जाएगी, तब इससे पूछूंगा कि मंगल ग्रह की आब-ओ-हवा कैसी लगी.

ये बात तब की है, जब मेरी मौसी की लड़की की शादी तय हुई थी और हम सभी को शादी में जाना था.
पूरी फैमिली सहित हम लोग बस से मौसी के घर चल दिए.

जब हम वहां पर पहुंचे, तब मैंने देखा कि मौसी का पूरा घर मेहमानों से भरा पड़ा था.
हमें आया देख कर मौसी बहुत खुश हुईं.

मम्मी मौसी के पास रह गईं.
मैं और मेरी बहन रानी बाहर की तरफ चल दिए. जहां बहुत मेहमान आए हुए थे.

उनमें से कुछ लड़के भी थे जो रानी को घूरे जा रहे थे.
रानी भी उन्हें लिफ्ट दे रही थी क्योंकि वह तो थी ही चुदासी माल … साली अपने मतलब का लंड ढूँढने में लगी थी.

पूरा दिन यूं ही रिश्तेदारों से मिलने मिलाने, जान पहचान बढ़ाने में निकल गया.

रात हुई तो सब अपने कार्यक्रम में व्यस्त हो गए.
फिर सब खाना खाने के लिए पंडाल में चले गए.
वहां पर मैंने देखा कि कुछ लड़के रानी से दोस्ती कर चुके थे और वह बहुत आपस में क्लोज होकर बातें कर रहे थे.

मुझे यह देखकर समझ में आ चुका था कि आज या कल रानी इनसे जरूर चुदेगी.

हम सबने खाना खाया.
मैं अपनी मौसी के लड़के के साथ बाहर घूमने चला गया.

मेरी बहन रानी उन लड़कों के साथ घूम रही थी. हो सकता था कि वो लड़के भी मेरी बहन को पेलने का प्लान बना रहे हों. वो बनाएं भी क्यों नहीं, मेरी बहन थी ही पेलने लायक माल.

जब मैं वापस लौट कर आया तो अपनी बहन को ढूंढने लगा.
कुछ देर बाद मैंने देखा कि वह उन लड़कों के साथ छत पर एकांत में खड़ी होकर कुछ बातें कर रही थी.
उसे बहुत टाइम हो गया था.

फिर मेरी बहन जैसे ही वापस आने के लिए मुड़ी तो उनमें से एक लड़के ने मेरी बहन का हाथ पकड़ लिया और खींच कर अपने से सटा लिया.

रानी की छाती उस लड़के की छाती से चिपक गई.
उस लड़के को बहुत ही मजा आया.
वह लड़का रानी के होंठों को चूसने लगा और रानी के बूब दबाने लगा.

पीछे खड़े दो लड़के भी उनसे सट गए. एक रानी की गांड दबाने लगा, दूसरा भी पीछे से उसके मम्मों को मसलने लगा.

रानी झटके से उनसे छूट कर हट गई और बोली- अभी रुक जाओ … इतनी भी बेकरारी अच्छी नहीं है, सब्र करो सबको सो जाने दो. फिर हम सब यहीं छत पर मिलेंगे. जब छत पर आएंगे तब हम छत के दरवाजे की कुंडी लगा देंगे.

ये सुनकर एक बोला- हां हां … वो तो तेरी चूचियां ही बता रही हैं कि आज तुझे अपनी चूत में मोटे मोटे लंड चाहिए ही है … साली रंडी!
मेरी बहन हंसने लगी.

उसने कहा- तुझे कैसे पता चला बे भोसड़ी वाले?
उनके बीच अब मामला बिंदास हो चला था.

तभी एक लड़के ने कहा- रात को तो चुदवाने आएगी ही. अभी जरा सैंपल तो दिखा दे मेरी जान.
इतना कह कर उसने मेरी बहन रानी को खींच लिया.

रानी हंसने लगी और उनसे छूटने की कोशिश करने लगी. मगर उस लड़के ने मेरी बहन रानी के दूध पकड़ कर मसल दिए और रानी आह आह करके रह गई.

वो जैसे ही उस लड़के की पकड़ से छूटी तो उसने तुरंत उसी लड़के के लंड को पकड़ कर मरोड़ दिया.

वो लड़का चीखा- उई साली … क्या लंड उखाड़ने का इरादा है … छोड़ दे रंडी.
रानी हंसने लगी- साले मादरचोद … लंड है या मिट्टी का खिलौना है. भोसड़ी के इतना कमजोर लंड लगता तो नहीं है तेरा!

वो सब हंसने लगे और कुछ देर बाद रानी वहां से चली गई.
सब लड़के बहुत खुश थे.

कुछ देर बाद वे लड़के भी वहां से चले गए.
मैं वहां पर जाकर छुपने की व्यवस्था देखने लगा क्योंकि मुझे उनकी यह काम लीला अपनी आंखों से देखनी थी.

फिर मैंने एक कोना ढूंढ लिया.
मैं भी अपनी जगह सैट करके नीचे चला गया और सोने का नाटक करने लगा.

कुछ देर बाद जब सब सो गए तो मैं चुपके से अपने कमरे से निकलकर छत पर जाकर वहीं छुप गया.

लगभग आधा घंटा बाद मेरी बहन और वह तीनों लड़के आ गए.
मेरी बहन ने नाइटी पहनी हुई थी, उस नाइटी में उसके दूध बहुत ही बड़े और मस्त लग रहे थे.

एक लड़के ने पीछे से आकर उसकी नाइटी को उसके मम्मों तक चढ़ा दिया और मम्मों को दबाने लगा.

दूसरे वाले ने उसके मम्मों पर हमला किया और वो एक दूध को अपने मुँह में दबा कर चूसने लगा.
तीसरा लौंडा उसकी गांड को दबा रहा था.

फिर उसी तीसरे ने रानी की नाइटी को गले से निकालकर अलग कर दिया.

मेरी बहन अब पूरी नंगी खड़ी थी क्योंकि उसने अन्दर ब्रा और पैंटी नहीं पहनी हुई थी.

यह देख कर वह लड़के पागल हो गए और जानवरों के जैसे रानी को चूमने चाटने लगे.
रानी भी उनके साथ बहुत खुश थी क्योंकि यह सब उसे बहुत दिन बाद करने को मिल रहा था.

आज एक साथ तीन लंड की सोच सोच कर उसे बहुत ही मजा आने वाला था.

फिर उन्होंने रानी को घुटनों के बल बैठा दिया.
एक लड़का पीछे बैठ गया और रानी के मम्मों को मसलने लगा.
रानी ने दो लड़कों के लंड को पकड़ कर आगे पीछे करते हुए चूसना आरम्भ कर दिया.

पीछे बैठा हुआ लड़का बहुत जम जम कर रानी के मम्मों को मसलने लगा.
रानी को बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था.

फिर उसमें से एक लड़का वहां से हटकर पीछे चला गया और जो लड़का पीछे बैठा हुआ था, वह भी आगे आकर रानी को अपना लंड चुसवाने लगा.

रानी को लंड बदल बदल कर चूसने में बड़ा मजा आ रहा था.
सभी लड़कों के लंड लगभग 6-7 इंच के थे.

उन तीनों में से एक लड़के ने रानी को वहीं पर एक चटाई बिछाकर लिटा दिया और उसकी चूत को चूसने लगा.

वो लड़का अपनी जीभ से रानी की चूत को गांड के छेद तक फिरा रहा था.
इससे रानी को अपनी गांड में गुदगुदी हो रही थी.
आज किसी ने पहली बार उसकी गांड के छेद को चाटा था.

कुछ देर बाद वह लड़का हट गया और उसने रानी के मुँह में अपना सामान ठूंस दिया.
उसकी जगह दूसरे लड़के ने रानी की चूत पर कब्जा जमा लिया.

अब वो चूत चाटने लगा. रानी पागल हुई जा रही थी.

फिर तीसरे लड़के ने आकर उन दोनों लड़कों को बोला, तो वो दोनों लड़कों ने रानी के पैर को पकड़ कर हवा में खींच लिया.
उसी दरम्यान तीसरे लड़के ने रानी की चूत पर अपना लंड को रगड़ना शुरू कर दिया.

रानी वासना से मचलती जा रही थी और चुदने के लिए गिड़गिड़ा रही थी- आह अब मत तड़पाओ … जल्दी से डाल दो अन्दर … मुझको पूरा मजा दे दो.

तभी उस लड़के ने एकदम से खींच कर अपने लंड को पूरा अन्दर पेल दिया.
एक ही झटके में उसका पूरा लंड रानी की चूत के अन्दर समा गया.

रानी के मुँह से हल्की सी चीख निकलने को हो गई पर दूसरे लड़के का लंड रानी के मुँह में होने के कारण उसकी आवाज बाहर नहीं निकल पाई.

लंड पेले हुए वाला लड़का बड़ी तेजी से रानी की चूत पर धक्के मारे जा रहा था.

उसने लगभग 10 मिनट तक रानी की चूत को चोदा और वो एकदम से लंड निकाल कर अलग हो गया.

उसकी जगह दूसरा लड़का आ गया.
उसने भी उसी स्टाइल में रानी की चूत में लंड पेला और उसे धकापेल चोदने लगा.

वो बीच बीच में रानी के मम्मों को भी तेजी से मसल दे रहा था.
फिर वो भी अलग हो गया.

अब तीसरे लड़के ने रानी को कुतिया बनाया और वो पीछे से अपना लंड को रानी की गांड में डालने लगा.
वो रानी को आगे झुका कर उसकी गांड मारने लगा.

वे दोनों लड़के आगे बारी-बारी से अपना लंड रानी के मुँह को भोसड़ा समझकर चोदने में लगे हुए थे.
दोनों ही तेजी से रानी के मुँह को चोदे जा रहे थे.

पीछे से लगे हुए लड़के ने रानी की गांड से लंड निकालकर चूत में डाल दिया.
उस लड़के ने काफी देर तक रानी की गांड और चूत को चोदा.

उस टाइम तक मेरी बहन कई बार झड़ चुकी थी.

अब तक रानी के मुँह में लंड पेले हुए दोनों लड़कों का लंड झड़ चुका था और रानी इस वक्त अपनी चूत चुदाई का मजा ले रही थी.

तभी चूत चुदाई में लगे उस लड़के ने अपने लंड को निकाल लिया और उसने रानी के मुँह में अपना पानी निकाल दिया.

उस तरह से अभी एक लड़का चुदाई करके फारिग हुआ था.
रानी लम्बी लम्बी सांसें लेती हुई अपनी चूत सहला रही थी.

कुछ देर बाद दूसरे लड़के ने रानी को गोद में उठा लिया और वो उसे तेजी से चोदने लगा.

उसका 5 मिनट में ही पानी निकलने लगा और उसने रानी की चूत में अपना पानी बहा दिया.

उसके हटते ही तीसरे लड़के ने रानी को दीवार के सहारे खड़ा कर दिया और पीछे से रानी की गांड मारने लगा.

उसने भी 10 मिनट में ही रानी की गांड में अपना पानी निकाल दिया.

अब चारों थककर वहीं चटाई पर लेट गए.

फिर रानी ने जाने से पहले एक एक बार उन तीनों के लंड को मुँह में लेकर चूसा और उन सबका पानी निकालकर गटक गई.

रानी सुबह के 5 बजे के लगभग नीचे आ गई.
जहां पर मम्मी सो रही थीं, वो वहीं पर आकर सो गई.

मैं भी अपनी हॉट सिस्टर की चुदाई देख देख कर अपने लंड का पानी दो बार गिरा चुका था.
मैं भी कुछ देर बाद नीचे आ गया और जगह देख कर सो गया.

दोस्तो, ये थी मेरी हॉट सिस्टर चुदाई कहानी, आपको कैसी लगी. प्लीज़ मुझे ईमेल जरूर करें.
[email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *