भाभी की सहेली की पहली चुदाई

हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी में पढ़ें कि मेरी भाभी की सहेली हमरे घर आती तो वो मुझे लाइन देती थी. मैंने भी सोचा कि इसकी चूत का मजा ले लेना चाहिए.

दोस्तो, मैं ईशान उत्तर प्रदेश का रहने वाला हूँ.
चुत वाली सभी आंटियों और भाभियों को मेरा प्यार भरा नमस्कार.

इस साइट पर ये मेरी पहली सेक्स कहानी है.

मेरी हाईट सामान्य है लेकिन मेरे लंड की लम्बाई साढ़े सात इंच है.
मुझे चूत चूसना बहुत पसंद है.

ये हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी पिछले साल की है और मेरी भाभी की एक सहेली की चुदाई की कहानी है.
उसका नाम रिया था.

रिया मुझे बहुत पसंद करती थी और उसने ये बात मुझे खुद कई बार कहा था.

लेकिन मुझे रिश्तों में बंध कर रहना पसंद नहीं है इसलिए मैं हमेशा रिया से दूर रहता था.
मुझे वो एक चिरांध लगती थी कि साली पहले प्यार का ड्रामा करेगी, फिर मत्थे पड़ेगी.

मेरा सोच ये रहता था कि चोदो चादो और अलग हो.
हालांकि रिया बहुत खूबसूरत थी. उसका फिगर 32-28-34 का था. उसकी चूचियां देख कर तो मेरा भी मन करता था कि अभी पटक कर चोद दूँ. उसकी चुत के रस को पी लूँ और उसकी चुत को चाट लूँ.

उधर रिया को मुझसे बात करना पसंद था. वो जब तब अपनी मुहब्बत की सरगम मेरे सामने छेड़ती रहती थी.

एक दिन मैंने उससे कह दिया कि मुझसे तुम कोई भी उम्मीद न रखो. मैं प्यार-व्यार में भरोसा नहीं करता हूँ.
उसने मुझसे बोला- ओके प्यार नहीं, तो हम लोग दोस्त तो बन ही सकते हैं.

उसकी ये बात मुझे भी अच्छी लगी और हम लोग दोस्त बन गए.
अब हमारी फोन पर काफ़ी बातें होने लगीं.

धीरे धीरे हमारे बीच सेक्स की बातें भी होने लगीं.
मुझे लगा रिया मेरे नीचे लेटने को मान जाएगी तो मैंने उससे सेक्स की बात खुल कर करना शुरू कर दिया.

वो भी शायद मेरी बातें पसंद करने लगी थी.
उसे भी ये लगता था कि वो मेरे साथ किसी तरह से सैट हो जाएगी.

एक दिन रिया को शॉपिंग करनी थी तो उसने मुझसे कहा- ईशान तुम साथ चलोगे क्या?
मैंने हां कर दी.

हम लोग एक शॉपिंग मॉल में चले गए.
रिया अपनी शॉपिंग में बिजी हो गई और मैं उधर घूमती हुई लौंडियों को देख कर अपनी आंखें सेंकने लगा.

उसने अपने लिए कुछ अंडरगारमेंट भी लिए थे.
कुछ देर बाद वो मेरे पास आई और घर चलने की कहने लगी.
फिर हम लोग घर आ गए.

शाम को मैंने रिया को मैसेज किया और उससे कहा- यार तुमने दिखाया नहीं कि क्या क्या लिया है?
उसने कहा- कुछ कपड़े लिए हैं.
मैंने कहा- हां तो दिखाए नहीं?
रिया बोली- कल घर आ कर देख लेना. मैं पहन कर ही दिखा दूंगी.

मैं काफी खुश था. मुझे लगा कल रिया को ब्रा और पैंटी में देखने को मिलेगा.
मैं अगले दिन रिया के बताए समय पर उसके घर पहुंच गया.

घर पहुंच कर देखा कि घर में कोई नहीं था.
रिया के पापा और मम्मी बाहर गए थे और वे शाम तक आने वाले थे.

रिया ने मुझे कमरे में अन्दर बुला लिया.
हम लोग बैठ कर बातें करने लगे.

मैंने रिया से सीधे बोला- यार रिया, मुझे देखना है.
रिया ने कहा- देख लो, पर बदले में मुझे क्या मिलेगा?

मैंने कहा- जो चाहिए ले लेना.
रिया बोली- फिर ठीक है. तुम जरा वेट करो … मैं आती हूँ.

रिया दूसरे रूम में चली गयी.
थोड़ी देर बाद रिया जब कमरे में आई तो मेरी आंखें फटी की फटी रह गयीं.

ओह्ह्ह माय गॉड … रिया सिर्फ रेड ब्रा और पैंटी में थी.
यार उसको ऐसे देख कर मन किया कि अभी उसके मम्मों को चूस लूँ और उसकी बुर में लंड डालकर घोड़ी बना कर चोद दूँ.
लेकिन मैंने खुद को कंट्रोल किया.

रिया इठलाती हुई आकर मेरे पास बैठ गयी.
उसने कहा- देख लो जी भर के!

रिया को ऐसे देख कर मेरा बुरा हाल था.
मेरा लंड टाइट हो चुका था जिसे रिया ने पैंट के ऊपर से देख लिया था.

रिया ने अनजान बनते हुए कहा- यार ईशान, ये तुम्हारे पैंट में क्या छिपा है?
मैंने सीधा बोला- रिया, ये मेरा लंड है और इसको अब तेरी चुत ही शांत कर सकती है.

रिया ने कातिल मुस्कान के साथ कहा- ईशान बेबी, मैं तो तुम्हारी ही हूँ. जो मन हो कर लो … बस एक बार आई लव यू बोल दो … और मेरे प्यार को अपना लो बस.

अब मेरे सामने कोई रास्ता नहीं था क्योंकि लंड बेकाबू हो रहा था; मुझे किसी भी कीमत में रिया को चोदना था.
मैंने भी रिया को आई लव यू बोल दिया.

रिया ने सीधा मुझे पकड़कर मेरे होंठों पर किस कर दिया.

हम लोग एक दूसरे को किस करने लगे और एक दूसरे के बदन को सहलाने लगे.
मैं रिया को किस करते हुए अपने एक हाथ को उसके मम्मों पर ले गया और दूसरे को रिया की पैंटी के ऊपर से उसकी चुत पर रख दिया.

रिया की चूत एकदम गीली थी. इसका मतलब था कि रिया को पहले से सेक्स करने का मन था.
हॉट फ्रेंड सेक्स के बारे में सोच कर ही मुझे झुरझुरी सी आ गई और मैंने उसके एक दूध को जोर से दबा दिया.

उसकी आह निकल गई.
सच में रिया के बूब्स इतने सॉफ्ट थे कि क्या बताऊं.

मैंने रिया की चूत को सहलाते हुए धीरे से अपना हाथ उसकी पैंटी में डाल दिया.

फिर हमने होंठ अलग किए और मैं सीधा नीचे बैठ गया.
मैंने दांतों से पकड़ कर रिया की चूत पर से उसकी पैंटी को खींच कर निकाल दिया.

सामने रिया की चूत एकदम पिंक कलर की थी. उसमें झांट का एक भी बाल नहीं था.
मेरी तो लॉटरी लग गयी क्योंकि मुझे क्लीन चूत ज्यादा पसंद है. सफाचट चूत चूसने में मजा आता है.

मैंने सीधा रिया की बुर से अपने होंठ लगा दिए और उसकी बुर को चूसना शुरू कर दिया.
उसकी सिहरन एकदम से मुझे हिला गई, ऐसा लगा मानो मैंने किसी बकरी के मेमने को अपनी जकड़ में ले लिया हो.

मैं उसकी दोनों टांगों को जकड़े हुए चुत पर अपना मुँह रगड़ रहा था. वो बेहद छटपटा रही थी.

कुछ ही पलों में उसकी चुत ने मेरे मुँह को स्वीकार कर लिया और उसकी टांगें खुल गईं.
मैं अब उसकी चुत को मजे से चाट रहा था, उसकी फांकों को खींच खींच कर चूस रहा था.

उसकी मादक आवाजें और उठती हुई गांड मेरे जोश को बढ़ाए जा रही थी.

मुझे रिया की चूत का खट्टा पानी बहुत अच्छा लगा … और उसकी चूत की महक मुझे पागल कर रही थी.
उधर रिया का बुरा हाल था.

रिया- अह्ह ईशान बेबी ओह्ह यस्सस बेबी … आह और चूसो न!

वो मेरा सर अपनी चूत में दबाए जा रही थी.
मैं भी बेसुध और मदांध होकर उसकी चुत को खाए जा रहा था.

कुछ ही देर में रिया ने कहा- बेबी, अब मुझे और नहीं रुका जाएगा … प्लीज मेरी बुर में लंड पेल दो. मुझे अपनी कुतिया बना कर चोद दो.
मुझे भी लगा कि रिया को अभी और तड़पाना सही नहीं होगा.

मैंने उससे कहा- जान एक बार मेरे लंड को भी चूस कर गीला कर दो.
प्रिया तुरंत झुक गई और उसने मेरा लंड मुँह में ले लिया.

यार मुझे तो जन्नत का मजा मिल रहा था … इतनी खूबसूरत लड़की मेरा लंड चूस रही थी.
रिया एक पेशेवर रंडी की तरह लंड को पूरा अन्दर तक लेकर चूस रही थी.

मैंने रिया से कहा- लंड पर थूक कर चाटो जान!
रिया ने वैसे ही किया.
इससे मुझे बहुत अच्छा लगा.

अब मुझे लगा मैं झड़ जाऊंगा, तो मैंने रिया से रुकने को कहा.
वो रुक गई और मेरी आंखों में वासना से देखने लगी.

मैंने रिया से घोड़ी बनने को बोला.
रिया तुरंत घोड़ी बन गयी.

उसकी गांड देख कर मन तो किया कि पहले गांड ही मार लूँ.
लेकिन रिया की चूत में ज्यादा खुजली हो रही थी, मुझे भी उसकी चुत चुदाई की चुल्ल भी हो रही थी.

मैंने रिया की चूत में लंड लगाया और उसको कमर से पकड़ कर हल्का सा जोर लगा दिया.
वो लंड की गर्मी पाकर एकदम से गांड उठाने लगी.

मैंने उसकी आंखों में व्याकुलता देखी और लंड के सुपारे को चुत की फांकों में रगड़ा.
वो मस्त होकर गांड उठा रही थी.

मैंने भी दाब दे दी.
अभी सिर्फ मेरे लंड का टोपा ही चुत में गया था कि रिया की मां चुद गई और वो रोने लगी.

वो दर्द से कराहती हुई बोली- आंह ईशान, बहुत दर्द ही रहा है … आह आज के लिए इतना काफ़ी है … प्लीज़ अब रहने दो … मुझे दर्द हो रहा है.

लेकिन अब मैं कहां मानने वाला था, मैंने रिया से कहा- बेबी आई लव यू … प्लीज बेबी मेरे लिए थोड़ा तो सहन करो.
वो ‘लव यू …’ सुनकर चुप हो गई.

मैंने फिर से थोड़ा सा थूक अपने लंड पर लगाया और उसकी चुत के छेद में एक ही झटके में पूरा लंड पेल दिया.
रिया की बुर में लंड घुसता चला गया.

वो दर्द से तड़पने लगी थी.
वह कुतिया बनी थी मगर दर्द हुआ तो वो वैसे ही बिस्तर पर लेट गयी और आंह आंह करती हुई मुझसे हटने की कहने लगी.

मैं भी रिया के ऊपर लेट गया.
रिया लंड निकलवाना चाहती थी लेकिन मैंने उसको हौसला दिया और उसकी गांड को सहलाया.

कुछ ही पल में लंड ने अपनी जगह बना ली और मेरे सहलाने चूमने से उसको भी आराम मिल गया.
फिर मैंने पीछे से उसकी बुर चोदना शुरू किया.

रिया भी अब चुदाई का मजा ले रही थी- यस्स्स आहह … ओह बेबी और चोदो न … बेबी … आह.
अब वो मादक आवाजें निकाल रही थी.
इससे मुझे और भी मजा आ रहा था.

मैंने उसकी कमर में हाथ डाला और उसे ऊंचा उठा लिया.
वो भी मस्ती से एकदम गांड उठा कर लंड लेने लगी.
मैंने अपने दोनों हाथ आगे बढ़ाए और उसकी चूचियों को भर कर दबोच लिया.

उसकी चूचियां पकड़ने से मेरी सही ग्रिप बन गई थी.
मैं उसकी गांड की तरफ चुत में लंड ठोकने लगा और उसकी चूचियों को पकड़ कर धकापेल मचाने लगा.

वो भी आह आह करके मेरे लंड से चुदाई का मजा लेने लगी.
उसने मेरी तरफ घूम कर देखा और चुम्मी करने का इशारा किया.
मैंने उसके ऊपर झुक कर उसकी चुम्मी ले ली.

वो बोली- जान, बहुत मजा आ रहा है.
मैंने कहा- हां बेबी, सच में बड़ा मस्त माल हो तुम!

वो बोली- तो अब अपनी इस माल को सीधा करके चोदो.
मैंने ओके कहा और उसे चित लिटा दिया.

मैंने लंड रिया की चूत से निकाला तो देखा उसमें खून लगा था.
मतलब रिया की कुंवारी चूत फट चुकी थी.

मैंने उससे कुछ नहीं कहा और उसकी फटी चूत में लंड पेल कर चोदना शुरू कर दिया.

इस तरह मैंने रिया को 20 मिनट तक चोदा.
इस हॉट फ्रेंड सेक्स के दौरान रिया एक बार झड़ चुकी थी लेकिन मैंने चुदाई जारी रखी.
थोड़ी देर बाद मेरे लंड का पानी निकलने वाला था तो मैंने रिया को बोला.

रिया ने कहा- मुझे लंड का पानी पीना है.
मैंने लंड निकाला और कपड़े से पौंछ कर उसके मुँह में दे दिया.
उसने लंड चूस कर रस पी लिया.

हम दोनों की हैप्पी एंडिंग कुछ इस तरह से हुई थी.

आगे हमारी चुदाई अभी जारी रहने वाली थी.
मैं अगली सेक्स कहानी में लिख कर आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने रिया की गांड भी मारी, कैसे उसे गाली देकर चोदा, कैसे उसकी बुर में चॉकलेट लगा कर चाटा … और बाद में कैसे रिया ने मुझे अपनी बहन पूजा की चूत दिलाई.

दोस्तो, कैसी लगी आपको मेरी हॉट फ्रेंड सेक्स कहानी, मुझे जरूर बताएं.
[email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *