ढलती उम्र में अदल बदल- 2

गरम सेक्स विद वाइफ में पढ़ें कि दो दोस्तों ने आपस में अपनी अपनी बीवी की वासना जगाने के लिए एक प्रोग्राम बनाया कि वे एक दूसरे की बीवी को पटायेंगे.

कहानी के पहले भाग
ढलती उम्र में सेक्स लाइफ में ठहराव
में आपने पढ़ा कि दो दोस्तों ने सेक्स लाइफ में नयापन लाने के लिए एक दूसरे की बीवी पटाने की योजना बनाई.

संजीव और विजय ने तय किया कि हो सकता है कि इस प्लान में दोनों को नाकामयाबी मिले या दोनों कामयाब हो जाएँ या हो सकता है केवल एक को कामयाबी मिले और दूसरा खाली हाथ रह जाये; ऐसी स्थिति में नाकामयाब कामयाब से जलेगा नहीं और खेल बिगड़ेगा नहीं।
यदि दोनों कामयाब हो जाते हैं तो कभी चारों आपस में इस बात का खुलासा नहीं करेंगे। क्योंकि ये कड़वा सच है कि बीवियाँ खुद कुछ भी कर लें पर अपने पति को नहीं बाँट सकतीं। फिर शक के घेरे में उनकी ज़िंदगी तबाह हो जाएगी।

विजय का शरीर कसरती था, उसे बॉडी बिल्डिंग का शौक है और उसने घर पर ही जिम भी बना रखा था।
तो संजीव ने उसे सलाह दी कि वो अपने कसरती बदन की कुछ फोटो उसे भेजे और जिनमें एक आध में उसके लंड का उभार भी नजर आ रहा हो।

अब आगे गरम सेक्स विद वाइफ:

संजीव ने उसके सामने ही ‘हैलो’ का एक मेसेज सीमा को भेजा।
सीमा का तुरंत ही फोन आ गया, उसने पूछा- क्या बात है, आज कैसे याद आ गयी?

संजीव ने भी कुछ मक्खन पोलिश की।
उसने उससे कहा- किसी कंपनी के कुछ ब्यूटी प्रोडक्टस के सैम्पल आए हुए हैं. कंपनी ने कहा कि किन्हीं खूबसूरत लेडीज को गिफ्ट कर दूँ तो मेरी निगाह में तुमसे ज्यादा खूबसूरत और स्मार्ट कोई और नहीं तो स्टाफ से भिजवा रहा हूँ तुम्हें!

सीमा भी मूड में थी तो बोली- क्यों ऋतु को नहीं दे रहे?
संजीव बोला कि नहीं, बीवी को नहीं दे सकते, कंपनी को नाम और फोन नंबर देने होते हैं जिनको हम दे रहे हैं और ऋतु तुम्हारे जैसे स्मार्ट नहीं। तुम्हारी बात ही अलग है।

बस सीमा खुश, बोली- ज्यादा फ़्लर्ट मत करो, ऋतु बहुत मारेगी।
संजीव ने एक दांव चलते हुए सीमा से कहा- इस गिफ्ट हेम्पर के बारे में विजय से कुछ नहीं कहना क्योंकि वो सुबह आया था तो उससे मैंने कुछ नहीं कहा था।

सीमा ने ओके कहा और बाइ कह कर फोन काट दिया।

संजीव ने वो गिफ्ट हेम्पर अपने स्टाफ से विजय का पता समझाकर सीधे उसके घर भेजा और साथ में एक गुलाब का फूल भी भेजा।
आधे घंटे में ही सीमा का थैंक्स और एक गुलाब के फूल का बंच उसके मोबाइल पर आ गया।

दवाई लेकर थोड़ी देर बाद घूम फिर कर विजय घर आ गया।

विजय ने शाम को वर्जिश में ज्यादा ही पसीना बहाया और अपने कसरती बदन और लंड के उभार के साथ शॉर्ट्स में कुछ फ़ोटोज़ संजीव को भेजे।

शाम को बीयर पीते समय चुपके से विजय ने सीमा की केन में वो दवाई डाल दी।
सीमा आज अच्छे मूड में थी।

विजय ने उसका मोबाइल चेक़ किया तो आज उस लड़के के नए मेसेज थे और आज उसने लिप टू लिप किस की कई सेक्सी फ़ोटोज़ भेजी थी, जो सीमा देख चुकी थी।
हालांकि सीमा ने उसके जवाब में ये लिखा था कि क्या फालतू की चीज भेजते हो, पर कोई नाराजगी नहीं दिखाई थी।

विजय ने सीमा से कहा- चलो बाथ टब में लेटते हैं.
तो सीमा बोली कि मैं आज बहुत बढ़िया डिनर बना रही हूँ, मुझे अभी किचन में समय लगेगा। आज नहीं, कल मस्ती करेंगे बाथ टब में!

डिनर से निबटकर सीमा और वो साथ साथ नहाये।
विजय ने सीमा को शावर के नीचे खूब चूमा और उसकी चुदास को भड़काया।
सीमा का मूड बढ़िया था ही तो जल्दी ही बेड पर गरम सेक्स विद वाइफ चालू हो गया।

आज सीमा साथ दे रही थी। दवाई लिए चार घंटे हो गए थे तो उसका असर चालू था।

फिर आज विजय ने उसकी चूत को जीभ और उंगली से खूब गर्म किया।
सीमा अब चुदासी हो गयी थी तो बोली- ऊपर आ जाओ।

पर विजय बोला- मुझे अभी और चूसना है तुम्हारी चूत को!
सीमा बोली- आ जाओ … अब मुझसे बर्दाश्त नहीं हो रहा!
तो विजय बोला- किसी और को बुला लो। मैं तो अभी नीचे ही बिज़ी हूँ।
सीमा बोली- ज्यादा बातें मत बनाओ, मैं किसको बुला लूँ?

अब विजय ऊपर आ गया और एक झटके में ही सीमा की चूत में घुस गया और चुदाई करते हुए बोला- जानू, एक बार किसी एक और लंड से तुम्हें चुदता हुआ देखना चाहता हूँ मैं!
सीमा मस्ती में बोली- तुम्हारा नंबर कट जायेगा फिर!

अब विजय की रफ्तार और बढ़ गयी और उसने कहा- सच्ची बताना … तुम कर लोगी न किसी और के साथ? सिर्फ एक बार मेरे लिए!
सीमा भी चुदासी हो गयी थी पर होशो हवास में थी, बोली- क्या पागल हो गए हो? ऐसा थोड़े होता है।

विजय बोला- इसमें हर्ज क्या है?
सीमा बोली- अच्छा अब चुदाई करो, मेरा तो होने वाला है।

विजय का भी हो गया औए वो सारा माल सीमा की चूत में निकाल कर लुढ़क गया।
उसने हाँफते हुए सीमा से कहा- आज बहुत दिनों बाद बहुत मजा आया, तुम रोज ऐसे ही किया करो।

सीमा हंस कर बोली- ये आज दूसरे लंड की बात कहाँ से ले आए?
विजय बोला- आजकल यह आम बात है। अगर तुम किसी के भी साथ और करो तो मुझे कोई आपत्ति नहीं होगी; मजा आएगा।

सीमा बोली- खाक मजा आएगा! कोई पंगा बन गया तो?
विजय बोला- कोई पंगा नहीं बनेगा, तुम्हें कोई मिले जाये तो तुम कर लेना, मुझे बताना भी मत!
दोनों चिपट कर सो गए।

पर सीमा के दिमाग में संजीव का मेसेज और गिफ्ट था.
तभी उसका व्हाटसप्प बजा।

विजय जानता था कि ये संजीव का होगा तो उसने सीमा को फोन देखने दिया और कुछ नहीं पूछा।
सीमा के पास संजीव का गुडनाइट मेसेज था। सीमा मोबाइल लेकर टॉइलेट में गयी और संजीव का एक गुडनाइट का मेसेज भेज कर और बाद में डेलीट करके वापिस आई.
विजय नाटक करके सोता रहा।

थोड़ी देर में सीमा तो सो गयी पर विजय ने आहिस्ता से उसका मोबाइल चेक़ किया तो सबसे ऊपर व्हात्सप्प में संजीव का ही अकाउंट था पर उसमें आज के मेसेज डिलीट थे।

उधर संजीव ने ऋतु को दवाई दी और बेड पर जाकर उसके साथ चूमा चाटी कुछ ज्यादा ही की।
संजीव ने जानबूझकर मोबाइल पर एक पॉर्न मूवी लगाई जिसमें कोई जिम ट्रेनर जिम में किसी लड़की को एक्सरसाइज सिखाते सिखाते इतना गर्म कर देता है कि लड़की उसका लंड पकड़ कर चूसने लगती है.
बाद में वो बलिष्ठ शरीर वाला लड़का उस लड़की की भरपूर चुदाई करता है।

ऋतु को मूवी देखने में मजा आ रहा था।

संजीव ने मोबाइल उसको पकड़ाया और खुद नीचे उसकी चूत को चूमने लगा।
ऋतु और गर्म हो गयी।

संजीव ने ऋतु से कहा- अगर उस दिन मसाज कराते वक़्त मैं तुमको नहीं रोकता तो तुम भी ऐसे ही चुद रही होतीं।
ऋतु बोली- ऐसे कैसे चुद जाती? लंड पकड़ा ही तो था, अंदर थोड़े ही किया था।
संजीव ने ऋतु से कहा- चलो हम भी कोई जिम जॉइन कर लेते हैं, तुम तो मैंटेन हो, मेरे डोले शोले बन जाएँगे, जैसे विजय के हैं।

अब संजीव ने ऋतु की टांगें और चौड़ी कर दी और अपनी जीभ के साथ उंगली भी उसकी चूत में करनी शुरू कर दी।
ऋतु की कसमसाहट शुरू हो गयी।

संजीव का मोबाइल ऋतु के हाथों में था।
उससे संजीव ने कहा- आज विजय कह रहा था कि उसने अपनी कुछ फ़ोटोज़ भेजी हैं, मैं देख ही नहीं पाया, देखना कैसी हैं।
कहकर संजीव ने एक हाथ से ऋतु के मम्मों पर निप्पल सहलाने शुरू किए।

ऋतु की चूत में आग लगनी शुरू हो गयी थी।
उसने संजीव के कहने पर व्ट्सऐप में विजय का अकाउंट खोला तो विजय के कसरती बदन और उस पर छलक़ता पसीना … क्या मर्दानगी भरी फोटो थीं.
और आखिर में उसके लंड के उभार की फोटो … ऋतु की चूत पानी से भर गयी।

उसको विजय में वो मालिश वाला लड़का दिखा और ऋतु को लगा कि काश विजय ने एक फोटो अपने लंड का भी भेजा होता।

संजीव ने उसकी हालत देख के अंदाज कर लिया कि ऋतु ने फोटो देख ली हैं.
पर फिर भी उसने अंजान बन के पूछा- देखी फ़ोटोज़?
ऋतु ने मोबाइल बंद कर दिया बोली- नहीं देखीं, तुम दिखा देना बाद में … अभी तो ऊपर आ जाओ और मेरी मुनिया के अंदर उसका मुन्ना डाल दो।

संजीव झट ऊपर आ गया और ऋतु की टांगें चौड़ी करके पिल गया।
कुछ तो फ़ोटोज़ का असर, कुछ दवाई का असर, ऋतु को लगा वो बहक रही है और उसने संजीव से बदल-बदल कर दो-तीन काम-मुद्राओं में चुदाई करवाई.
आखिर में उसका लंड चूम चाट कर साफ किया.

दोनों चिपक कर सो गए।

सुबह गोदाम पर पहुँचते ही संजीव ने विजय से बात की और दोनों ने अपना रात का अनुभव शेयर किया।

दोनों उत्साहित थे। दोनों ने तय किया कि अब अगले एक हफ्ते उन्हें अपनी अपनी बीवियों को पराये मर्द के लिए उकसाना है और एक दूसरे की बीवी के संपर्क में रहना है।

दिन में संजीव ने लाल गुलाबों से लदे गुडमॉर्निंग और हेलो के मेसेज भेजे तो पलट के सीमा के जवाब भी आए।
सीमा ने उसे गिफ्ट हेम्पर के लिए थैंक्स बोला।

संजीव ने बहुत हिम्मत करके उसे एक ‘यू आर सो स्वीट’ का मेसेज भेज दिया तो जवाब में सीमा ने उसे थैंक्स का रोमांटिक सा मेसेज भेज दिया।

अब संजीव ने उससे उसकी एक दो फोटो मांगी तो सीमा का कोई जवाब नहीं आया।
संजीव ने सोचा कि बात बिगड़ गयी.

पर एक घंटे बाद सीमा का मेसेज आया और उसने पूछा- फ्री हो?
संजीव ने जवाब दिया कि अभी कुछ कस्टमर हैं, अभी थोड़ी देर में वापिस मेसेज करता हूँ।

उसके पास आज ज्यादा ही काम था पर फिर भी उसने पाँच मिनट निकाल कर सीमा से चैट किया।

सीमा ने उससे पहले ही अपनी एक दो सेल्फी भेज दी थीं.

पर चैट में उसने कहा कि शायद विजय ये पसंद न करे कि वो संजीव से चैट कर रही है।

संजीव बोला- निश्चिंत रहो, मैं उसे कभी कुछ नहीं बताऊंगा. और हाँ मैं और तुम दोनों ही चैट के बाद चैट डिलीट कर देंगे। और फिर हमारे बीच कुछ गलत भी तो नहीं है।
सीमा तैयार हो गयी।

अब दोनों के बीच जोक्स, कार्टून्स, शायरी शेयर होने लगी जो धीरे धीरे नॉनवेज भी होती जा रही थी।
संजीव की राय पर दोनों ने ही फेक आईडी बना कर एक हैंगआउट अकाउंट अपने अपने मोबाइल में बना लिया अब यदि गलती से मेसेज डेलीट होने से रह भी जाये तो पार्टनर को पता नहीं चलेगा कि ये चैट किससे हो रही है।

अब सीमा का दिन का वक़्त अच्छा गुजरने लगा।

सुबह संजीव आधा घंटे पहले आफिस जाता और जब तक सारा स्टाफ आता, तब तक वो सीमा से चैट करता।
सीमा विजय के जाने के बाद घर के काम निबटा कर संजीव से चैट करती और लंच के बाद अपने दूसरे दोस्त रोकी से।

अब रोकी और उसकी चैट में कुछ अश्लीलता भी आने लगी थी।
सीमा संजीव के नॉन वेज जोक्स और कार्टून्स रोकी को भेज देती और रोकी के कुछ मेसेज संजीव को भेज देती।

अब रोकी ज्यादा ही अश्लील भेजने लगा था तो सीमा उसे मना तो नहीं करती पर वो सब सीमा संजीव को नहीं भेज सकती थी।

रोकी अब उसे रोज ही अपनी या और किसी की नंगी फोटो भेजता और सीमा से भी कहता कि वो भी उसे अपनी नंगी फोटो भेजे.
पर सीमा ने उसे न तो कभी अपने चेहरा दिखाया था और न कभी कोई नंगी फोटो भेजी थी।

हाँ अब उसने एक दो सेल्फी अपने ब्रा में कैद मम्मों की उसको भेजीं थीं।
रोकी फ़िनलेंड का रहने वाला था तो उससे वैसे तो कोई खतरा नहीं था। पर चेहरे वाली फोटो पता नहीं कोई कब नेट पर डाल दे।

उधर दो तीन दिन तो विजय और ऋतु का मामला तेजी से आगे नहीं बढ़ पाया।
विजय ने ऋतु को गुडमॉर्निंग के मेसेज भेजे पर ऋतु का कोई जवाब नहीं आया।

किसी बहाने से विजय ने ऋतु को फोन भी किया तो ऋतु ने साधारण रूटीन तरीके से ही बात करी उसमें आकर्षण वाली कोई बात नहीं थी।

विजय उदास हो गया.
उसे संजीव और सीमा की नज़दीकियों का अंदाज था पर शर्त के मुताबिक वो न तो संजीव को रोक सकता था न सीमा को!

तीन दिनों के बाद विजय रात को संजीव के घर चला गया और उसे गाड़ी में बैठाकर लॉन्ग ड्राइव पर ले गया और अपनी मनःस्थिति बताई।

संजीव बोला- यार, मैं सीधे ऋतु से ये तो नहीं कह सकता कि वो तुझसे सेटिंग करे! हाँ मैं उसे उकसा सकता हूँ … और उकसाऊंगा। तुझे थोड़ा बोल्ड बनना होगा। अगर ऋतु बुरा मानी तो अगर वो मुझसे कहेगी तो मैं संभाल लूँगा और अगर उसने सीमा से शिकायत की तो बात बिगड़ जाएगी।

बात सही थी।

संजीव ने उसे एक रास्ता बताया कि एक दो दिन में विजय उसके घर रात को कोई व्यापारिक बात करने के बहाने डिनर पर अकेला आए। संजीव घर पहुँचने में लेट कर देगा, बल्कि वो इस बीच सीमा से चैट करता रहेगा ताकि सीमा को भी शिकायत न हो। घर पर अकेला विजय और ऋतु होगी, उन्हें समय मिलेगा आपस में बात करने का। शायद कुछ बात बन जाये।

दोस्तो, आपको इस गरम सेक्स विद वाइफ में मजा आ रहा होगा.
[email protected]

गरम सेक्स विद वाइफ कहानी जारी रहेगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *