कामेच्छा की कमी के कारण, लक्षण और निदान

कामेच्छा की कमी का सीधा मतलब यौन इच्छा में कमी का होना होता है| यौन इच्छा सभी लोगों में एक जैसी नहीं होती है, बल्कि सभी लोगों में इसका स्तर अलग-अलग होता है| कई बार ऐसा होता है कि कामेच्छा की वजह से पार्टनर आप से नाराज़ हो जाते है और यही वजह होती है कि कामेच्छा में कमी आपकी भी चिंता और तनाव का एक विषय बना जाता है|

दो प्यार करने वालों के बीच शारीरिक सम्बन्ध का होना भी जिंदगी का एक जरूरी पहलू होता है| ऐसे में कामेच्छा में कमी होना आपकी परेशानी का जरूरी विषय बन सकता है| वैसे कामेच्छा में कमी होने के बहुत से कारण देखे जा सकते है जिसमे से खराब जीवन शैली, शराब और गलत आदतें साथ ही शारीरिक समस्या की वजह से भी कामेच्छा में कमी आ सकती है| नीचे हम कामेच्छा क्या है इसके बारे में तो जानेंगे ही साथ ही इसके कारण, लक्षण और निदान के बारे में भी हम बात करेंगे|

कामेच्छा हमारी जिंदगी और हमारी मैरिड लाइफ का वो एक जरूरी पहलू है जो की हमारे जीवन, मस्तिष्क, भावनात्मक और समाजिक कल्याण के लिए बेहद जरूरी है| कामेच्छा में कमी को अगर सीधे शब्दों में कहा जाए तो यह आपके यौन सम्बन्ध बनाने की इच्छा में कमी को कहते है| कई मामलों में तो ऐसा होता है कि महिला या पुरुष का सेक्स करने का मन ही नहीं करता है| कामेच्छा की भावना पुरुष और महिलाए दोनों में अलग-अलग स्तर में पायी जाती है| लेकिन जीवन शैली और बदलावों के चलते सभी लोगों में इसका स्तर अलग -अलग देखने को मिलता है|

कामेच्छा के स्तर का सीधा सम्बन्ध आपके ‘टेस्टोस्टेरोन’ हारमोन से भी जुड़ा होता है| अगर देखा जाए तो महिलाओं की अपेक्षा पुरुषों में ‘टेस्टोस्टेरोन’ 40 गुना ज्यादा पाया जाता है| पुरुषों में कामेच्छा भी महिलाओं की अपेक्षा ज्यादा होती है| लेकिन महिलाओं में शादी के पहले और बाद वाली जिंदगी के उतार चढ़ाव से उनकी कामेच्छा के स्तर में बदलाव आ सकता है| लेकिन एक चीज़ यह भी है कि कामेच्छा में कमी भी पुरुष की अपेक्षा महिलाओं में सबसे ज्यादा होती है| सम्भोग के दौरान भी महिलाओं की अपेक्षा पुरुष का प्रदर्शन काफी आक्रामक दिखाई देता है| नीचे हम बात करने वाले है महिलाओं और पुरुष में कामेच्छा की कमी होने के कारणों के बारे में –

1 अधिक शराब व धुम्रपान का सेवन करना|

2 एंटीबायोटिक दवाओं का अत्यधिक सेवन करना|

3 जरुरत से काफी अधिक हस्थमैथुन करना|

4 टेस्टोस्टेरोन के स्तर में कमी होना|

5 शारीरिक रूप से कमज़ोरी का होना|

6 यौन उत्तेजना में कमी का होना|

7 हड्डी में जरुरी द्रव्य की कमी|

8 शुक्राणुओं में कमी का होना शीघ्र पतन की समस्या का होना|

9 शारीरिक व्यायाम न करना|

10 जरुरत से अधिक बार सेक्स कर लेना|

11 ठीक प्रकार से नींद ना लेना या मानसिक तनाव का होना|

12 हारमोंस में असंतुलन या बदलाव का होना|

13 उच्च रक्तचाप का होना|

14 मानसिक सम्बन्धी तनाव, अवसाद जैसी समस्या का होना|

15 सही प्रकार से संतुलित आहार का सेवन ना करना या खराब दिनचर्या का होना|

16 यौन तंत्रिकाओं का कमजोर हो जाना|

1 किसी प्रकार की यौन समस्या का होना|

2 गर्भावस्था

3 रजोनिवृत्ति

4 गलत खान पान और अत्याधिक दवाओं का सेवन|

5 मस्तिष्क में सेक्स को लेकर या अपने शरीर को लेकर किसी तरह की गलत अवधारणा का होना|

6 पार्टनर पर विश्वास ना होना, या मन में किसी तरह का विचार होना|

7 किसी प्रकार की स्वास्थ्य से जुड़ी समस्या को होना|

1 मांस पेशियों में किसी प्रकार की समस्या होना|

2 कम मात्रा में वीर्य का निकलना|

3 काफी देर बाद उत्तेजना आना और वीर्य का देर से निकलना|

4 यौन सम्बन्धी इच्छाओं का कम होना|

5 आत्मविश्वास में लागातार कमी आना|

6 टेस्टोस्टेरोन के स्तर का कम होना|

7 बालों का झड़ना|

कामेच्छा को अगर दूर करना है, तो एक बार चिकित्सक से ज़रुर मिलना होगा| चिकित्सक आपके उपचार के लिए कुछ शारीरिक टेस्ट करने के साथ ही आप से कुछ महत्वपूर्ण बातें भी आप से पूछ सकता है जो आपको उनके सामने बताना काफी ज़रुरी है| किसी भी चिकित्सक के लिए आपका इलाज करते समय यह जानना बेहद जरूरी होगा कि आपको यह समस्या कितने समय या साल से है, क्योंकि काफी बार लोगों को बचपन से ही इस तरह की समस्या हो जाती है| कई बार ऐसा भी होता है कि किसी शारीरिक बिमारी की वजह से भी आपकी कामेच्छा में कमी आ जाती है इसलिए डॉक्टर इन सभी पहलुओं को जान लेने के बाद ही आपका इलाज करेगा|

इन सभी चीज़ों के अलावा कोई चिकित्सक आप से भी जान सकता है कि सम्भोग के दौरान आप कैसा महसूस करते है| कहने का मतलब है कि ऐसा भी हो सकता है कि सम्भोग के दौरान आपकी योनी में दर्द या जलन होती हो और आपको यौन से सम्बन्धित कोई समस्या हो जिसके चलते ही आपकी कामेच्छा में कमी आ गयी हो|

एक बार चिकित्सक आपकी समस्या को जान ले उसके बाद वे आपको सही परामर्श दे सकते है| चिकित्सक के अलावा आपको भी पूरी तरह से खुद का ध्यान रखना होता है| ऐसी किसी भी तरह की समस्या होने पर शराब व मादक पदार्थों का सेवन करना बंद कर दे| अगर आपके टेस्टोस्टेरोन हारमोन के स्तर की वजह से कोई समस्या आई है तो चिकित्सक आपका अलग से ट्रीटमेंट कर सकते है| आपको इस समस्या को जल्द ही दूर करने के लिए स्वस्थ जीवन शैली को भी अपनाना होगा और अपने खान पान पर भी विशेष रूप से ध्यान देना होगा| अगर आपको किसी तरह की शारीरिक या मानसिक समस्या है तो भी आप इसका ज़रुर इलाज करवाए| कई बार गलत दवाइयों के चलते भी कामेच्छा में कमी आ जाती है अगर आपके साथ भी ऐसा ही कुछ हुआ है. तो चिकित्सक को इस बारे में ज़रुर बताये| एक बार आप परेशानी की जड़ को अगर ठीक प्रकार से जान ले, तो कामेच्छा में कमी होने का इलाज ज़रुर कराए, क्योंकि ऐसा ना करने पर आप पर तनाव आ सकता है और साथ ही आपका पार्टनर भी आप से नाराज़ हो सकता है|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *